क्या आप गिलोय के सभी चमत्कारी फायदे जानते है?

गिलोय का जब भी नाम लिया जाता है तब सीधा ध्यान आयुर्वेद पर केन्द्रित हो जाता है। जी हाँ गिलोय के अनगिनत फायदे हैं जिनसे कई बिमारियों को दूर किया जाना संभव हैं। यहाँ हम उन्ही फायदों के बारे में जानेंगे।

गिलोय के चमत्कारिक फायदे:

  • गिलोय की सहायता से किडनी और लीवर में उत्पन्न सभी विषाक्त पदार्थों को नष्ट किया जा सकता है एवं गिलोय का जूस नियमित पीने से कई बिमारियों को दूर किया जा सकता है।
  • मलेरिया या चिकिनगुनिया जैसे बुखार के ठीक होने के बाद भी शरीर में कमजोरी बनी रहती है और शरीर में और जोड़ों में दर्द बना रहता है। इन सभी से निजात पाने के लिए भी गिलोय का जूस पिया जाता है।
  • पाचन की समस्या कई लोगों को होती है। और पाचन तंत्र सही न होने की वजह से कई प्रकार की अन्य समस्याएँ भी पैदा हो जाती है। अगर आप गिलोय का प्रयोग नियमित करते हैं तो आप पाचन की समस्या से निजात पा सकते हैं।
  • गैस, जोड़ों का दर्द, असमय बुढ़ापा या फिर शरीर का टूटना, इन सभी बिमारियों से निजात दिलाने की लिए आयुर्वेद में गिलोय को प्राथमिकता दी गई है।
  • मधुमेह या फिर कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने के लिए भी गिलोय का प्रयोग किया जाता है।
  • सुन्दरता बढ़ाने, त्वचा को झुरियों से बचने के लिए, चेहरे की चमक और निखार के लिए गिलोय का प्रयोग किया जाता है।

कैसे प्रयोग करें:

  • गिलोय का जूस बनाकर इसका प्रयोग खाली पेट करें। खाली पेट गिलोय का जूस पीने से कई प्रकार की बीमारियाँ तो दूर होंगी ही साथ ही साथ शरीर में स्फूर्ति बनी रहेगी।
  • 2 ग्राम काली मिर्ची, 2 ग्राम इलायची, 2 ग्राम सोंफ और 2 ग्राम गिलोय का चूर्ण लें। इन्हें मिलकर खाली पेट इनका सेवन करने से सभी बीमारियाँ दूर होती हैं।

गिलोय को आयुर्वेद में वरदान माना गया है एवं गिलोय से शरीर के अंदरूनी विकार को दूर किया जाना संभव है। मधुमेह जैसी बिमारियों के लिए गिलोय को कई अन्य औषधियों के साथ मिलकर इसका जूस निकला जाता है। इसे सुखाकर इसका चूर्ण बनाकर भी प्रयोग में लिया जाता है।