योगा या जिम क्या है बेहतर फिट रहने के लिए

वैसे तो फिट रहने के कई तरीके हैं योग और जिम। लेकिन अगर इस बात पर ध्यान दिया जाये कि पहले के समय में तो जिम नहीं हुआ करते थे तब भी लोग फिट होते थे और वे बीमार भी कम हुआ करते थे। आखिर ऐसा क्यों। इसके कई कारण है:

  • शुद्ध वातावरण
  • संतुलित भोजन
  • सारे कार्य स्वयं ही करना।

ये तो हो गए पहले के समय में लोगों के फिट होने का राज। अब बात आती है कि जिम या योग दोनों में से क्या बेहतर है। वैसे दोनों ही अपनी-अपनी जगह बेहतर हैं लेकिन वास्तविकता के साथ अगर जाएँ तो योग को ग्रंथों से लेकर विश्व में फिट रहने के लिए सर्वोपरि स्थान प्राप्त है इसके कई कारण है:

  • योग, जिम से ज्यादा बेहतर इसलिए है क्योंकि योग के द्वारा मन और शरीर को एक साथ एकत्रित करके एकाग्रता पर ध्यान दिया जा सकता है। लेकिन जिम के द्वारा सिर्फ शरीर की ऊपरी फिटनेस पर ही ध्यान दिया जा सकता है।
  • योग को करने के बाद अगर कुछ दिन के लिए छोड़ दिया जाये तो इसके नुकसान नहीं हैं लेकिन अगर जिम को करने के बाद छोड़ दिया जाये तो इसके दुष्परिणाम बहुत अधिक हैं।
  • योग के साथ आपका पाचन तंत्र भी अच्छा होता है जिससे आप जो भी खाते हैं उसे आसानी पूर्वक पचाया जा सकता है लेकिन जिम के साथ आपको अपने खाने पर विशेष ध्यान देना होता है।
  • योग को घर पर रहकर भी आसानी से किया जा सकता है इसके लिए किसी मशीन की आवश्यकता नहीं होती। लेकिन जिम में जो मशीन होती है वो आप घर पर नहीं ला सकते उसके लिए आपको जिम या क्लब में ही जाना होगा।
  • योग एक बहुत पुरानी फिटनेस की विद्या है जिसे आसानी से सीखा जा सकता है। जिम में होने वाले व्यायाम पूर्ण रूप से मशीन पर निर्भर करते हैं और यह आधुनिक फिटनेस का तरीका है जिसमें सीखने जैसा कुछ नहीं है।

तो अब तो आप समझ ही गए होंगे की योग, जिम से ज्यादा बेहतर है और आगे भी योग का स्थान हमेशा उच्च ही रहेगा।