जानते हैं कि आपके तनाव व डिप्रेशन की असली वजह क्या

डिप्रेशन एवं तनाव को एक ही तरह की बीमारी माना जा सकता हैं क्योंकि दोनों ही एक दूसरे से जुड़े हुए हैं।  तनाव के कारण ही अवसाद या डिप्रेशन होता हैं। हम यहाँ अगर तनाव और डिप्रेशन को रिलेशनशिप से जोड़ें तो एक बहुत बड़ी बात सामने आती है।

आज के समय में  सभी लोग नौकरी में व्यस्त हैं चाहे वो लड़का हो या लड़की और 75% से अधिक लोग रिलेशनशिप में होते हैं। काम और रिलेशनशिप दोनों को सही तरीके से तालमेल  करना बहुत मुश्किल होता हैं और अगर बहुत कोशिश के बाद भी ऐसा नहीं हो पाता हैं तो ये बिगड़ा हुआ तालमेल तनाव और डिप्रेशन का रूप ले लेता हैं। वैसे क्या आप जानते हैं कि रिलेशनशिप में तनाव व डिप्रेशन की असली वजह क्या है? अगर नहीं जानते तो जानने की कोशिश करिए यह जानना बहुत जरूरी हैं जैसे:

  • काम में बहुत व्यस्त होना और एक दूसरे को समय न देना।  जिसकी वजह से आपस में तनाव हो जाता हैं।
  • एक दूसरे की बात को सुनकर अनसुना कर देना।
  • खुद की बात को मनवाने के लिए जिद करना।
  • एक दूसरे को समझने का प्रयास न करना।
  • कहीं और का गुस्सा अपने पार्टनर पर निकालना।
  • छोटी-छोटी बात को बड़ा बना देना फिर उसपर झगड़ना।

अगर देखा जाये तो ये परिस्थिति अपने आप ही उत्पन्न होती हैं कोई नहीं चाहता कि ऐसी स्थिति आये। लेकिन जब हम बहुत अधिक काम में होते हैं तो इस स्थिति से गुजरना पड़ जाता है औ रिलेशनशिप में इस वजह से तनाव उत्पन्न होता है। ये बहुत सारी ऐसी चीज़ें हैं जो आपके रिलेशन को ख़राब कर देती हैं साथ ही रिलेशनशिप में तनाव उत्पन्न करती हैं।  इसलिए आपको इनसे बचना बहुत जरूरी है और सही तरीके से अपने रिलेशन को सम्हालना बहुत जरूरी हैं। और ऐसी स्थिति से बचने के लिए आपको करना है ये काम:

  • हर काम के लिए समय निर्धारित करें।
  • अपने रिलेशनशिप को और अपने पार्टनर को समय दें।
  • काम के साथ जीवन को भी एन्जॉय करें।
  • बात-बात पर गुस्सा न करें अगर आपको बहुत डिप्रेशन या तनाव महसूस होता है तो योग या मैडिटेशन का सहारा लें। इससे आपके जीवन में बहुत परिवर्तन आएगा और आप मानसिक शांति का अनुभव करेंगे।

इस तरह से अपने रिलेशनशिप को तनाव से बचाएं और खुद डिप्रेशन से बचें।